पूर्व एमएलसी एवं सिख नेता टीएस वजीर हत्याकांड की जांच कर रही दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जम्मू नानक नगर इलाके से एक युवक को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।
बताया जा रहा है कि टीएस वजीर की हत्या के बाद हत्यारोपी हरप्रीत सिंह के फोन से उक्त युवक को कॉल की गई थी। वजीर का दिल्ली में शव बरामद होने के बाद से ही उक्त युवक फरार हो गया था। पुलिस ने उसके मोबाइल फोन पर सर्विलांस पर रखा हुआ था।
सोमवार को जैसे ही युवक का फोन ऑन हुआ तो पुलिस ने उसके लोकेशन को हासिल कर उसे पकड़ लिया। युवक को पहले जम्मू के गांधी नगर पुलिस थाने में लाया गया। उसके बाद उसे अज्ञात स्थान पर ले जाया गया।
सूत्रों की माने तो दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की दो टीमों इन दिनों जम्मू में मौजूद है, जो वजीर हत्याकांड के आरोपितों की तलाश में है। क्राइम ब्रांच को इस हत्याकांड में हालांकि कोई अहम कामयाबी नहीं मिल पाई है। हत्याकांड के दोनों मुख्य आरोपित हरप्रीत सिंह और हरमीत सिंह गिरफ्त से बाहर है। इसके अलावा वारदात के बाद सीसीटीवी में दोनों हत्यारोपियों के साथ देखे गए तीन अन्य युवकों के बारे में भी दिल्ली पुलिस के हाथ खाली है। दिल्ली पुलिस टीम उन युवकों का भी पता लगाने का प्रयास कर रही है।
ज्ञात रहे कि बीते रविवार को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोशल मीडिया में हत्यारोपी हरमीत सिंह का कबूलनामा वायरल करने के आरोप में एक युवक को पकड़ा था। उससे दिल्ली पुलिस अभी भी पूछताछ कर रही है।
वजीर की अस्थियों को दरिया चिनाब में किया विसर्जित: दिल्ली में मृत मिले टीएस वजीर की अस्थियों को उनके परिवार वालों ने सोमवार को दरिया चिनाब में विसर्जित कर दिया गया। परिवार द्वारा उनकी आत्मा की शांति के लिए पाठ भी रखा गया था। जिसमें शहर के गणमान्य लोग और परिवार के सदस्य शामिल हुए।

LEAVE A REPLY