जम्मू जिले कुछ दूर स्थित झज्जरकोटली थाने के अतरगत पड़ने वाले मनवाल के सेरी कलाह गांव में अपरोध का मामला सामने आया है! जानकारी के लिए अप को बता दें कि पीडीडी डेलीवेजर की संदिग्ध मौत के मामले को पुलिस ने हत्या के मामले में तबदील किया है। अपरोध के इस मामले में डेलीवेजर की हत्या के आरोप में पुलिस ने उसके एक दोस्त चमन लाल को गिरफ्तार कर लिया है। इसमें पुलिस का दावा है कि चमन लाल ने अपने दोस्त की हत्या करने की बात को उनके सामने कबूल लिया है।
मिली जानकारी के अनुसार डेलीवेजर उत्तम सिंह पुत्र मेजर सिंह निवासी सेरी कलह, मनवाल अपने घर के नजदीक घायल अवस्था में मिला। इलाज के दौरान उसकी अस्पताल में मौत हुई। मौत संदिग्ध परिस्थितियों में हुई इस लिए मनवाल पुलिस ने उसके शव का तीन डाक्टरों के बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया। प्राथमिक रिपोर्ट में डाक्टरों ने बताया कि उत्तम सिंह के सिर के पीछे चोट के गहरे घाव हो जो अकसर तेजधार हथियार के वार से हुए है।
इस मामले में पुलिस ने इस सूचना पर जांच शुरू कर दी है और पाया गया कि वारदात के दिन बीते बुधवार को उत्तम सिंह को चमन लाल उर्फ चूचू निवासी उत्तरवेनी, सांबा के साथ देखा गया थ। दोनों उत्तम सिंह और चमन लाल सांबा से सेरी कलह गांव में गए थे। इस के बाद चमन लाल के मोबाइल फोन की लोकेश को खंगाला तो पता चला कि जिस स्थान पर उत्तम सिंह घायल अवस्था में मिला था वहां चमन लाल भी मौजूद होने की बात सामने आई है। वारदात को अंजाम देने के बाद चमन लाल भाग गया था। पुलिस ने उसे उसके घर उतरवेनी, सांबा से पकड़ने में कामयाबी हासिल की। बहुत बार पूछताछ करने पर वह टूट गया और उसने उत्तम सिंह की हत्या करने की बात को कबूल लिया है। इसके बारे में एसएसपी जम्मू चंदन कोहली ने बताया कि चमन लाल ने अपने दोस्त की हत्या को क्यों अंजाम दिया,उससे पूछताछ जारी है। माना यह भी जा रहा है कि इस वारदात में कुछ और लोग भी शामिल हो सकते है!

LEAVE A REPLY