इंडियन प्रीमियर लीग सीजन 13 में अब तक 30 मुकाबले खेले जा चुके है।  आईपीएल की सभी टीमे एक दुसरे से अपना पेहला मुकाबला खेल चुकी है।  अब तक के पॉइंट्स टेबल की स्तिथि यह बता रही है की पिछली बार की चैंपियन मुंबई इंडिंयस इस बार भी फॉर्म में है और अंकतालिका में दिल्ली कैपिटल्स से पहले-दुसरे स्थान के लिए ज़बरदस्त भिड़ंत में लगी हुई है।  दिल्ली – मुंबई के इस भिड़ंत में चुपके से देखते ही देखते अब तक बाकी सीजन में अंतिम आने वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु तीसरे पायदान पर आ गयी है। बाकी की बची टीमों में अब करो या मरो वाली हालत है जहाँ सभी टीम आने वाले सभी मुकाबलों को जीतने के इरादे से मैदान पर उतरेगी । लेकिन इसी बीच आईपीएल ने अपने रोमांच को बढ़ाते हुए मिड सीजन ट्रांसफर विंडो सभी फ्रैंचाइज़ी के लिए खोल कर सीजन 13 में रोमांच का तड़का लगा दिया है।

मिड सीजन ट्रांसफर क्या है ?

आसान भाषा में कहे तो मिड सीजन ट्रांसफर एक ऐसा सिस्टम है जिसके द्वारा अगर कोई टीम चाहे तो किसी दुसरे टीम के खिलाडी को बीच टूर्नामनेट में अपने टीम में शामिल कर सकती है।  आप इसे ऐसे समझिये : दिल्ली कैपिटल्स की टीम में अजिंक्या रहाणे है , पर रहाणे ने अब तक दिल्ली की तरफ से एक भी मैच नहीं खेला है तो अगर किसी टीम को दिल्ली के अलावा मान लीजिये चेन्नई या पंजाब को यह लगे की अगर रहाणे हमारी टीम में आ जायें तो हमें फायदा हो जायेगा तब इस मिड सीजन ट्रांसफर  के तहत चेन्नई या पंजाब की टीम दिल्ली के मैनेजमेंट से बात करके आईपीएल गवर्निंग कॉउन्सिल की मंज़ूरी ले कर रहाणे को अपनी अपनी टीम का हिस्सा बना सकते है।

वैसे यह मिड सीजन ट्रांसफर आईपीएल में पिछले साल ही आ गया था।  पर दिक्कत पिछले साल यह थी की केवल अनकैप्ड खिलाड़ियों का मिड सीज़न ट्रांसफर हो सकता था।  पर इस बार चुकी यह आईपीएल कोरोना महामारी के बीच खेला जा रहा है और वह भी ऐसे समय में जब खिलाडी महीनो से क्रिकेट मैदान से दूर थे इसीलिए इस बार मिड सीजन ट्रांसफर में कुछ बदलाव किये गए हैं।  इस बार इस सिस्टम के तहत कैप्ड और अनकैप्ड, दोनों खिलाड़ी मिड सीज़न ट्रांसफर में शामिल हो सकते है

 

किन नियमो के तहत होगा ये मिड सीजन ट्रांसफर

अब आपके मन में यह सवाल स्वाभाविक रूप से आएगा की क्या कोई भी खिलाडी मिड सीजन ट्रांसफर में शामिल हो सकता है ? तो आपके इस सवाल का जवाब है – नहीं। मिड सीजन ट्रांसफर के इस सिस्टम के तहत किसी भी टीम के उन्ही खिलाडियों का ट्रांसफर हो सकता है जिन्होंने टीम के लिए दो से ज़्यादा मैच नहीं खेले हो। इसमें एक और शर्त यह है की मन लीजिये कोई ऐसा खिलाडी है जिसने अब तक मैच भले ही 2 से काम खेले हो पर टीम मैनेजमेंट को यह लगता है की आने वाले मैचों में वह टीम का हिस्सा हो सकता है और यह सोच कर टीम मैनेजमेंट उसको ट्रांसफर लिस्ट में शामिल नहीं करती तब कोई दूसरी टीम उस खिलाडी में अपने टीम में शामिल नहीं कर सकती है ।

अब आपको बताते है आईपीएल की सभी टीमों के उन खिलाडियों के नाम जो इस मिड सीजन ट्रांसफर में उपलब्ध है :

राजस्थान रॉयल्स – एंड्रयू टाय, वरुण आरोन, डेविड मिलर

किंग्स इलेवन पंजाब – क्रिस गेल, मुजीब, क्रिस जॉर्डन, अर्शदीप सिंह

दिल्ली कैपिटल्स – अजिंक्य रहाणे, मोहित शर्मा, एलेक्स कैरी

मुंबई इंडियंस – मिचेल मैक्लैनघन, क्रिस लिन, नैथन कुल्टर नाइल, सौरभ तिवारी

चेन्नई सुपरकिंग्स – इमरान ताहिर, मिचेल सैंटनर, रुतुराज गायकवाड़

सनराइजर्स हैदराबाद – ऋद्धिमान साहा, मोहम्मद नबी, शाहबाज नदीम, सिद्धार्थ कौल

कोलकाता नाइट राइडर्स  – लोकी फर्गुसन, संदीप वारियर, प्रसिध कृष्णा

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु– क्रिस मॉरिस, डेल स्टेन, पार्थिव पटेल, उमेश यादव, पवन नेगी

LEAVE A REPLY