आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शिक्षकों की भर्ती को बंद किए जाने के विरोध में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सदस्यों ने वीरवार को जोरदार प्रदर्शन किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार प्रेस क्लब के बाहर प्रदर्शन कर रहे विद्यार्थी परिषद के सदस्यों का कहना था कि सरकार का यह आदेश पढ़े लिखे युवाओं को बेरोजगारी की ओर धकेलने वाला है। इसके साथ अगर इस आदेश को वापस नहीं लिया जाता तो परिषद इसके विराेध में प्रदेश भर में बड़ा आंदोलन शुरू कर देगी। बता दें कि सरकार इस फैसले को वापस ले। सरकार के इस फैसले के खिलाफ आगे कई संगठनों की ओर से विरोध प्रदर्शन शुरू हो सकता है।
बताया जा रहा है कि परिषद के सदस्यों ने बताया कि सरकार ने फैसला लिया है कि शिक्षा विभाग में जनरल लाइन शिक्षकों की नियुक्ति सिर्फ आरईटी शिक्षकों को पदोन्नत कर की जाएगी, जबकि मास्टरों व लेक्चररों के पदों पर भी पदोन्नति के बाद ही शिक्षकों को नियुक्त किया जाएगा। वहीं परिषद के सदस्यों ने इस मौके पर सरकार से मांग की कि 80 प्रतिशत जनरल लाइन शिक्षकों की नियुक्तियां जेकेएसएसबी की ओर से ही की जाएगी, जबकि पदोन्नति के आधार बीस प्रतिशत ही नियुक्तियां हों।

LEAVE A REPLY