एक हाथ में जीजा का कटा सिर, एक में कुल्हाड़ी लेकर थाने पहुंचा साला, बहन ने कर ली आत्महत्यामध्य प्रदेश के जबलपुर से हॉरर किलिंग (Horror killing) का एक केस सामने आया है. गुरूवार सुबह युवती के भाई ने अपने ही जीजा का गला कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी. हत्या करने के बाद आरोपी युवक जीजा का सिर एक बोरी में भरकर थाने पहुंचा और सरेंडर कर दिया. इस घटना के कुछ ही देर बाद लड़की भी अपने घर पर पंखे से लटकी मिली. हालांकि अभी इस बात का पता नहीं चला है कि लड़की ने आत्महत्या की है या उसे जान से मारकर शव को पंखे से लटका दिया गया है. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. युवती ने 3 महीनें पहले ही घर से भागकर शादी की थी.

तिलवारा के शंकरघाट का रहने वाला मिंटू शिवराम शुक्ला उर्फ धीरज तिलवारा थाना खून से लतपत बोरी लेकर पहुंचा. खून में सनी बोरी देखकर पुलिसकर्मी सख्ते में पड़ गए और फौरन उसे हिरासत में लेकर जब बोरी खोलकर देखा गया तो उसमें एक युवक का सिर था. धीरज से जब पूछताछ की गई तो उसने बताया कि यह सिर उसके जीजा विजेत सुरेंद्र कश्यप का है. उसने बताया कि रमनगरा के बर्मन मोहल्ला में उसने जीजा की हत्या की थी. पुलिस रमनगरा जब पहुंची तो खेतों के पास की सड़क पर विजेत का धड़ पड़ और हाथ पड़ा हुआ था.

3 महीने पर बहन ने घर से भागकर की थी शादी
पूजा ने 13 दिसंबर 2020 को घर से भागकर विजेत कश्यप से शादी की थी. जब पूजा घर वापस नहीं आई तो घरवालों ने थाने में जाकर लापता होने की रिपोर्ट दर्ज करा दी. इस के बाद पुलिस काफी समय तक दोनों को तलाश्ती रही और 27 फरवरी को पुलिस ने पूजा और विजेत को पकड़ लिया. पकड़े जाने के बाद पूजा ने घर जाने से मना कर दिया. विजेत और पूजा जबलपुर के गढ़ा में किराये के मकान में रह रहे थे. विजेत गुरूवार को अपने गांव आया था इसी दौरान मौके का फायदा देखकर धीरज ने उसकी हत्या कर दी.

पूजा का शव पंखे से लटका मिला
विजेत की हत्या के पुष्टि होने के कुछ समय बाद ही पुलिस को सूचना मिली की पूजा का शव भी उसके घर पर पंखे से लटका हुआ है. पुलिस के पहुंचने के पहले ही परिजन वहां पहुंच चुके थे और उन्होंने कमरे का दरवाजा तोड़ कर शव को नीचे उतार लिया था. इस तरह से पूजा का शव पंखे से लटका मिलना बहुत से सवाल खड़े कर रहा है इसी वजह से पुलिस जांच कर रही है कि कहीं पूजा की भी हत्या कर उसका शव तो पंखे से नहीं लटकाया गया.

दोनों परिवारों में थी आपसी रंजिश

पूजा का पति विजेत कश्यप और धीरज शुक्ला की फैमली अवैध शराब के कारोबार से जुड़ी हुई है. यही कारण है कि दोनों के घरों एक दूसरे का आना जाना नहीं था ,लेकिन पूजा और विजेत एक दूसरे को पसंद करते थे और शादी करना चाहते थे, पर परिवार वाले राजी नहीं थे तो दोनों ने घर से भाग कर शादी कर ली.

————

LEAVE A REPLY