आपकी जानकारी के लिए बता देंं कि अपनी ड्यूटी के लिए समर्पित अधिकारियों और जवानों की विशिष्ट सेवाओं को सम्मानित करने के लिए आइआरपी 19 वीं बटालियन मुख्यालय कठुआ में मंगलवार पुरस्कार समारोह हुआ। इसके साथ ही समारोह में बटालियन के कमांडेंट एसएसपी बेनाम तोष, एसपी दिवाकर सिंह, एसपी संतोख राज और डिप्टी एसपी दीपक तुफ्ची ने अधिकारियों को सम्मानित किया और जवानों को प्रशस्ति पत्र के साथ नकद पुरस्कार प्रदान किया।
बता दें कि विभिन्न मोर्च पर अनुकरणीय सेवाएं प्रदान करने वाले 310 उत्कृष्ट अधिकारियों और जवानों को सरकारी कर्तव्यों का पालन करते हुए अधिक समर्पण, देशभक्ति के लिए सम्मानित किया। इस मौके पर एसएसपी बेनाम तोष ने अधिकारियों को किसी भी चुनौती से निपटने के लिए तैयार रहने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि पुलिस सेवा कठिन है, लेकिन दिलचस्प और तुलनात्मक रूप से बेहतर है, क्योंकि यह राष्ट्र और मानव जाति की सेवा करने के लिए बेहतर अवसर प्रदान करती है। पुलिस अधिकारियों को खाकी में लोक सेवक होने पर गर्व महसूस करना चाहिए और चौबीस घंटे लोगों को आवश्यक सेवाएं और सहायता प्रदान करने के लिए तैयार रहना चाहिए। जनता के साथ व्यवहार करते समय पुलिस अधिकारियों को हमेशा पेशेवर तरीके से व्यवहार करना चाहिए और ऐसा कोई कार्य नहीं करना चाहिए जो सार्वजनिक रूप से पुलिस की छवि खराब करता हो। इसके साथ ही उन्होंने नकद पुरस्कार और प्रशस्ति प्रमाण पत्र प्राप्त करने वालों को बधाई दी और कहा कि उनके प्रदर्शन को सराहा गया है, क्योंकि वे कोविड -19 काल में उत्पन्न सबसे कठिन चुनौतियों के बीच अनुकरणीय समर्पण और कर्तव्यों के प्रति प्रतिबद्धता प्रदर्शित किया। उनके खिलाफ किसी भी तरफ से कोई शिकायत नहीं मिली थी। कमांडेंट ने आश्वासन दिया कि ईमानदारी और अनुशासन के साथ कर्तव्यों का पालन करने वाले सभी अधिकारियों को आने वाले दिनों में पुरस्कृत और सजाया जाएगा।

LEAVE A REPLY