आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जम्मू में पेशे से हलवाई 22 वर्षीय युवक संदिग्ध परिस्थितियों में तवी नदी से कूद गया। युवक की किस्मत अच्छी थी कि वह तवी के उस हिस्से में गिरा यहां रेत पड़ी थी। यदि वह पत्थरों पर गिर होता तो उसका जीवित बचना कठिन था। घायल की पहचान अंकुश कुमार निवासी रामनगर, ऊधमपुर के रूप में हुई है, जो इन दिनों जम्मू के रिहाड़ी इलाके में रहता है। उसे जीएमसी में भर्ती करवाया गया है। एसएचओ नवाबाद विजय शर्मा का कहना है कि युवक की हालत बयान देने योग्य नहीं है। अलबत्ता उसके परिवार वालों का दावा है कि तवी पुल पैदल चलते गर्मी के कारण चक्कर आ गया था। जिससे वह पुल से तवी नदी में कूद गया। अलबत्ता पुलिस मामले की विभिन्न पहलुओं से जांच कर रही है। युवक का बयान अहम है। युवक अपने पिता के साथ हलवाई का काम करता है। रविवार दोपहर चार के बजे के करीब बिक्रम चौक से डोगरा चौक की ओर जाने वाले तवी नदी पर बने पुराने पुल से अंकुश कुमार गिर पड़ा। पुल से गुजर रहे लोगों ने बिक्रम चौक नाके पर तैनात पुलिस कर्मियों को सूचित किया। नाके से पुलिस कर्मी तवी नदी में गए और अंकुश को अस्पताल पहुंचा। चूंकि पुल के जिस हिस्से से अंकुश पुल में गिरा था वह नवाबाद पुलिस थाने का क्षेत्र था। इस लिए थाने से जांच अधिकारी को अस्पताल में घायल के बयान दर्ज करने के लिए भेजा गया। काबिलेगौर है कि बीते कई दिन से तवी पुल से कूद कर जान देने के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। जिसके चलते नगर निगम के कारपोरेटरों ने तवी नदी के पुलों के किनारे लोहे की जाली लगवाने का प्रस्ताव दिया है।

LEAVE A REPLY