आपकी जानकारी के लिए बता दें कि खबर यह है कि अलगाववाद की सियासत को तिलांजली देने के बाद फिर नौकरशाही में लौटे आइएएस अधिकारी फैसल शाह ने अनुच्छेद 370 को हटाए जाने संबधी राष्ट्रपति के आदेश को चुनौति देने वाले याचिककर्ताओं की सूची में से अपना नाम वापस लेने के लिए आवेदन किया है। इसके साथ ही खबर यह है कि डा शाह फैसल ने जनवरी 2019 में सरकारी नौकरी से इस्तीफा दिया था औार इसके बाद उन्होंने अपना राजनीतिक दल जम्मू कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट बनाया था। उन्होंने पांच अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 को भंग किए जानेके खिलाफ सर्वाेच्च न्रूायालय में याचिका दायर कर रखी है। जनसुरक्षा अधिनियम के तहत बंदी रह चुके डा शाह फैसल ने इसी वर्ष सरकारी सेवा से अपने इस्तीफे को वापस लेने का आवेदन किया था। केंद्र सरकार ने उनके आवेदन पर उनके इस्तीफे को खारिज कर दिया और बीते माह ही उन्हें केंद्रीय संस्कृतिक मंत्रालय में उपसचिव बनाया गया है।
जानकारी के अनुसार संबधित सूत्रों ने बताया कि डा शाह फैसल ने इसी वर्ष अप्रैल में सर्वाेच्च न्यायालय में एक याचिका दायर कर अपना नाम उन सात याचिकाकर्ताओं से हटाए जाने का आग्रह किया है जिन्होंने अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के फैसले को अदालत में चुनौती दे रखी है। अन्य याचिकाकर्ताआगं में जावेद अहमद बटए शेहला रशीद शोराए इलियास लावेए सैफ अली खानए रोहित शर्मा और मोहम्मद हुसैन पडर हैं। कश्मीर के कारीगर.उत्पादक विश्वभर में अपना सामान बेच सकें इसके उपाय किए जा रहे रू खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग के अध्यक्ष मनोज कुमार ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार प्रदान करने का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना अब हकीकत बनता जा रहा है। आज यहां दक्षिण कश्मीर के पांपोर स्थित केवीआइसी के उत्पादन विपणन एवं प्रशिक्षण केंद्र पीएमटीसी में कश्मीरी कारीगरों और किसानों से बातचीत में उन्होंने कहा कश्मीर के कारीगर और उत्पादक विश्वभर में अपना सामान बेच सकेंएइसके लिए सभी संभव उपाय किए जा रहे हैं।
उन्होंने पीएमटीसी में सिलाई कढ़ाईए मधुमक्खी पालन समेत विभिन्न रोजगारोन्मुख प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे प्रशिक्षुओं से भी बातचहीत की। उन्होंने कहा पीएमटीसी में प्रशिक्षण के जरिए यह लोग आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनेंगे। उन्होंने किसानों और हस्तशिल्पियों को केवीआइसी की तरफ से हर संभव मदद का यकीन दिलाया। मनोज कुमार ने इस अवसर पर पाटरी कलाकारों को 200 इलैक्ट्रिक पाटर व्हील और पेपर माछी के कलाकारों को 12 हायड्रा पुपारी मशीने प्रदान की। उन्होंने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए जम्मू के कारीगरों को अगरबत्ती निर्माण की 40 मशीनें भी प्रदान की। उन्होंने पीएमटीसी पांपोर मे महात्मा गांधी पार्क और महात्मा गांधी पैवेलियन का भी उद्घाटन किया।

LEAVE A REPLY